अंक ज्योतिष- मूलांक 4

अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करें

अंक ज्योतिष- मूलांक 4

जिनका जन्म 4, 13, 22, 31 तारीख को हुआ है उनका मूलांक 4 है। इस मूलांक के व्यक्तियों का प्रतिनिधित्व हर्षल ग्रह करता है।
ये लोग निरंतर क्रियाशील रहते हैं। इनके जीवन में बार-बार उतार-चढ़ाव आता रहता है। ये लोग कभी बहुत संपन्न तो कभी बहुत विपन्न भी देखे गए हैं। धन का गमनागमन, उन्नति-पतन, यश-अपयश, जय-पराजय, हानि-लाभ, सौभाग्य-दुर्भाग्य इत्यादि इनके जीवन में आता-जाता रहता है। ये नवीनता के उपासक और प्राचीन रूढ़िवादिता के भंजक होते हैं। ये पूर्णरूप से सामाजिक होते हैं और उसका निर्वहन करते हैं।

विवेचना

स्वामी ग्रह- हर्षल।
शुभ समय- 21 जून से 30 अगस्त।
निर्बल समय- अक्टूबर, नवम्बर, दिसम्बर।
शुभ तिथियां- 4, 13, 22, 31।
सहायक तिथियां- 2, 11, 20, 29।
शुभ वर्ष- 4, 13, 22, 31, 40, 45, 58, 67।
सहायक वर्ष- 2, 11, 20, 29, 38, 47, 56, 65, 74।
शुभ दिन- रविवार, सोमवार, शनिवार।
सर्वोत्तम दिन- शनिवार।
शुभ रंग- धूप-छांव, नीला, भूरा, चटक रंग।
रत्न- नीलम।
रोग- रक्तदोष, संक्रामक रोग, पशु से आघात।
प्रभावित अंग- पिंडलियां व श्वास क्रिया।
देव-गणपति।
व्रत- गणेश चतुर्थी।
दान- लाल पदार्थ व खाद्यान्न।
विवाह संबंध- 15 जुलाई से 15 अगस्त, 15 मई से 14 जून तथा 15 अक्टूबर से 18 नवम्बर के मध्य जन्मे जातक से।
व्यवसाय- शराब, स्प्रिट, तेल, कैरोसिन, पारा, इत्र, रेल विभाग, वायु सेना, टेक्नीशियन, इंजीनियरिंग, रंगसाजी, छापे का कार्य, टेलीफोन आपरेटर, पत्रकारिता, शिल्प कार्य, विद्युत कार्य, भाषण, उपदेशक, राज्यकर्मचारी, ठेकेदारी।
शुभ दिशा- दक्षिण-पूर्व, दक्षिण-पश्चिम।
अशुभ दिशा- उत्तर-पश्चिम, उत्तर-पूर्व। धातु- लौह।

Kundli Button 2
Lucky Gemstone 2

सावधान रहे – रत्न और रुद्राक्ष कभी भी लैब सर्टिफिकेट के साथ ही खरीदना चाहिए। आज मार्केट में कई लोग नकली रत्न और रुद्राक्ष बेच रहे है, इन लोगो से सावधान रहे। रत्न और रुद्राक्ष कभी भी प्रतिष्ठित जगह से ही ख़रीदे। 100% नेचुरल – लैब सर्टिफाइड रत्न और रुद्राक्ष ख़रीदे, अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

अगर आपको यह लेख पसंद आया है, तो हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब करें, नवग्रह के रत्न, रुद्राक्ष, रत्न की जानकारी और कई अन्य जानकारी के लिए। आप हमसे Facebook और Instagram पर भी जुड़ सकते है

नवग्रह के नग, नेचरल रुद्राक्ष की जानकारी के लिए आप हमारी साइट Gems For Everyone पर जा सकते हैं। सभी प्रकार के नवग्रह के नग – हिरा, माणिक, पन्ना, पुखराज, नीलम, मोती, लहसुनिया, गोमेद मिलते है। 1 से 14 मुखी नेचरल रुद्राक्ष मिलते है। सभी प्रकार के नवग्रह के नग और रुद्राक्ष बाजार से आधी दरों पर उपलब्ध है। सभी प्रकार के रत्न और रुद्राक्ष सर्टिफिकेट के साथ बेचे जाते हैं। रत्न और रुद्राक्ष की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करें
Default image
Gyanchand Bundiwal
Articles: 162